काला जादू

|

Yadi aap dono pati patni ke beech jyada kalah hoti hai to aap ye upay kar sakte hai.  Raat ko sote samay patni apne bistar (takiye ke neeche) pr desi kapoor aur pati apne bistar pr kamkhiya sindoor rakhe aur phir subah pati desi kapoor ko jala de aur patni us sindoor ka cheeta apne
Read More

|

१॰ बाधामुक्त होकर धन-पुत्रादि की प्राप्ति के लिये “सर्वाबाधाविनिर्मुक्तो धनधान्यसुतान्वित:। मनुष्यो मत्प्रसादेन भविष्यति न संशय:॥” (अ॰१२,श्लो॰१३) माँ दुर्गा के लोक कल्याणकारी सिद्ध मन्त्र अर्थ :- मनुष्य मेरे प्रसाद से सब बाधाओं से मुक्त तथा धन, धान्य एवं पुत्र से सम्पन्न होगा- इसमें तनिक भी संदेह नहीं है। २॰ बन्दी को जेल से छुड़ाने हेतु “राज्ञा
Read More

|

सोमवार एवं शनिवार को पूर्व की यात्रा करने की परिस्‍थिति में यात्रा करने वाले को क्रमश: दूध का पान कर ‘ॐ नम: शिवाय’ मंत्र का जाप करते हुए यात्रा करनी चाहिए। शनिवार को उड़द के दाने पूर्व दिशा में चढ़ाकर तथा कुछ दाने खाकर यात्रा करें एवं यात्रा के समय शनि-गायत्री का पाठ करता रहे-
Read More

|

जब भी किसी को प्रेम करें तो याद रखें कि संयम और प्रतीक्षा सबसे उत्तम उपाय है (1) लड़के को प्रेम में सफलता के लिए पन्ना (एमरल्ड) की अंगूठी धारण करना चाहिए इससे प्रेयसी के मन में प्रबल आकर्षण बना रहता है । (2)  प्रेमी युगल को शनिवार और अमावस्या के दिन नहीं मिलना चाहिए। इन
Read More

|

* वास्तु शास्त्र में कुछ ऐसे प्रमुख दोष बताये गए है जिनके कारण संतान की प्राप्ति नहीं होती या वंश वृद्धि रुक जाती है | इस समस्या के पीछे की वास्तविकता..क्या है इसका शास्त्रीय और ज्योतिषीय आधार क्या है ये आप अपनी जन्म कुंडली के द्वारा जानकारी प्राप्त कर सकते है … इसके लिए आप
Read More

|

That effective spells can be used to remove along side it or bad impact of witchcraft spells or even jadu tona impact. These are some methods that are used to accomplish selfish desire but as a result of enemity and jealusness these include also used in order to hurt anyone. Witchcraft Undesirable Effects Removal Spells
Read More

|

यह प्रयोग शुक्ल में पक्ष करना चाहिए ! एक पान का पत्ता लें ! उस पर चंदन और केसर का पाऊडर मिला कर रखें ! फिर दुर्गा माता जी की फोटो के सामने बैठ कर दुर्गा स्तुति में से चँडी स्त्रोत का पाठ 43 दिन तक करें ! पाठ करने के बाद चंदन और केसर
Read More